…क्यों दोषमुक्त लोकतंत्र चाहते थे लोकनायक

सर्वोदय और भू-दान आंदोलन की सीमित सफलता से दुःखी जयप्रकाश नारायण लोकतंत्र को दोषमुक्त बनाना चाहते थे. वो धनबल और चुनाव के बढ़ते खर्च को कम करना चाहते थे, ताकि जनता का भला हो सके. साथ ही जेपी का सपना एक ऐसा समाज बनाने का था.  जिसमें नर-नारी के बीच समानता हो और जाति का भेदभाव न हो.

Read more